Mood Off Shayari In Hindi – बेस्ट 101+ मूड ऑफ़ पर शायरी

Mood Off Shayari In Hindi – बेस्ट 101+ मूड ऑफ़ पर शायरी – आज के दौर में मूड ऑफ यानि उदास महसूस होना एक सामान्य बात हो गई है। जब हमें कुछ गलत समझ में आता है या हमारे साथ कुछ बुरा होता है, तब हमारा मूड ऑफ हो जाता है। ऐसे समय में, मूड ऑफ शायरी बहुत उपयोगी साबित होती है। यह शायरी हमारे मन को शांत करती है और हमें उत्साह प्रदान करती है। इसे पढ़ने से हमें अपने दुखों से भागने की शक्ति मिलती है और हम फिर से खुशहाल हो जाते हैं। अगर आप भी मूड ऑफ शायरी की तलाश में हैं, तो आप अपनी यहां पसंद के शेरो-शायरी पा सकते हैं।

 

Mood Off Shayari In Hindi - बेस्ट 101 मूड ऑफ़ पर शायरी

 

मूड ऑफ शायरी उन लोगों के लिए एक बेहतरीन तरीका है जो अपने दिल की बातें दूसरों से नहीं कह पाते। यह शायरी उन लोगों के लिए भी उपयोगी है जो अपनी ज़िन्दगी में अकेलापन महसूस करते हैं या अपने समस्याओं से निपटने के लिए किसी से बात नहीं कर सकते। मूड ऑफ शायरी के जरिए वे अपने अंदर के दुखों को बाहर निकाल सकते हैं

Mood Off Shayari In Hindi – बेस्ट 101+ मूड ऑफ़ पर शायरी

संध्या के समय जब दिन धीमा पड़ता है और आसमान में सूर्य की लालिमा धीरे-धीरे गायब होती है, उस समय बहुत से लोगों को मूड ऑफ हो जाता है। इसी तरह कुछ वक्त जब हमें अकेलापन महसूस होता है या हमारे पास कोई बातचीत करने वाला नहीं होता, तो हमारे मन में उदासी आ जाती है। ऐसे में मूड ऑफ शायरी हमारे लिए राहत की एक चारा हो सकती है। शायरी की इस कला में इतनी ताकत होती है कि वह हमारे दुखों को सुलझाने में मदद करती है और हमारे मन में खुशियों को फिर से जगाती है।

बेस्ट 101+ मूड ऑफ़ पर शायरी

मूड ऑफ शायरी की दुनिया बहुत विस्तृत होती है जहां हमें विभिन्न विषयों पर शेरो-शायरी मिलती है। इसमें उदासी, दुख, अकेलापन, प्रेम और जीवन के अनुभवों पर शेरो-शायरी मौजूद होती है। यह शायरी बहुत ही असाधारण होती है जो हमें जीवन के अधिकांश पहलुओं से वाकिफ कराती है। इसलिए, मूड ऑफ शायरी को पढ़कर हम अपनी अंतरात्मा से मेल जोड़ सकते हैं

Mood Off Shayari In Hindi

Mood Off Shayari In Hindi

अब तो रोज मेरा मूड ऑफ होता है,
एक तेरी याद दिल को सताती है।

मेरा मन उदास है आज,
चाहत की राह पे तड़प रहा है।

जब बारिश की बूंदें गिरती हैं,
तो मेरा मन भी उदास होता है।

दिल में उमंगों का तूफ़ान था,
लेकिन आज मेरे मन में अब शोर है।

मेरे दिल का हाल दिल नहीं जानता,
आज फिर से मेरा मन उदास हो गया।

जब तुम्हें याद करता हूँ,
तो मेरा मन हमेशा उदास हो जाता है।

दिल में कुछ अजीब सा दर्द है,
जो जाने कब खत्म होगा।

कुछ खो दिया है मैंने अपने आप में,
जिसको तलाशता हूँ लेकिन नहीं मिलता।

न जाने क्यों मेरा मन उदास होता है,
एक अजीब सी खामोशी सा चारों तरफ फैलती है।

जब मुझे अकेलापन महसूस होता है,
तो मेरा मन हमेशा उदास हो जाता है।

अब तो मेरी आँखों में नमी रहती है,
जिसे देख के लोग मेरे मन का हाल जान लेते हैं।

Mood Off Shayari Girl

Mood Off Shayari Girl

 

कभी-कभी ऐसा लगता है,
जैसे मुझसे जीवन का सारा समय उदासी में ही बीतता है।

आज फिर से मुझे लगता है,
कि जीवन का मतलब होता है सिर्फ उदासी।

खुद को खोजते-खोजते,
मैंने एक उदास अंदाज में खुद को पाया है।

मैं अब तन्हा हो गया हूँ,
अपनी उदासी में डूबा हुआ हूँ।

खुद से बातें करता हूँ,
अपनी उदासी को ढूंढता हूँ।

जब चारों तरफ अंधेरा घेर लेता है,
तो मेरा मन हमेशा उदास हो जाता है।

उदासी की इस जंगल में,
मैं अकेले ही रह जाता हूँ।

जब जीवन की लहरें मेरे साथ नहीं होतीं,
तो मेरा मन हमेशा उदास होता है।

उदासी की इस रात में,
मैं अपने आप को ढूंढता हूँ।

मैं उदास नहीं हूँ, लेकिन मेरे मन को उदासी की तलाश है।

जब मेरा मन उदास होता है,
तो मैं अपनी आँखों से आँसू नहीं रोक पाता।

उदासी की ये रातें,
कभी-कभी बहुत लम्बी होती हैं।

Mood Off Shayari Boy

Mood Off Shayari Boy

 

जब तनहा महसूस करता हूँ मैं,
उदासी मेरे साथ खेलती हुई नजर आती है।

उदासी की इस धुंध में,
मैं अपनी पहचान खो देता हूँ।

उदासी की इस राह में,
मैं किसी से मिलने की चाह नहीं रखता हूँ।

मेरी उदासी की आवाज़,
मेरी खुशी की आवाज़ से कहीं कम होती है।

उदासी की ये रातें,
बहुत समय तक मेरे साथ रहती हैं।

जब मैं उदास होता हूँ,
तो मेरी आँखों से आँसू बह जाते हैं।

मैं उदास नहीं हूँ, लेकिन मेरे मन को उदासी की जरूरत है।

उदासी की इस राह पर,
मैं अकेले ही चलता हूँ।

जब दुनिया की अफवाहों से,
मेरा मन उदास होता है।

उदासी की ये रातें,
मेरे लिए अब आम होती जा रही हैं।

मेरी उदासी की दुनिया में,
मैं एक अजनबी हो गया हूँ।

जब मैं उदास होता हूँ,
तो मेरा मन हमेशा उदास रहता है।

उदासी की इस तलाश में,
मैं अकेले ही रह जाता हूँ।

Sad Mood Off Shayari Girl

Sad Mood Off Shayari Girl

 

उदासी की ये धुंध मुझे आकर्षित करती है,
इसे दूर करने की कोशिश करते हुए भी मुझे नज़र आती है।

जब मुझे उदास महसूस होता है,
तब मैं खुद से पूछता हूँ कि क्यों हुआ ऐसा होता है?

उदासी की ये रातें मुझे गहराई से झकझोरती हैं,
अकेलापन से भरी इस दुनिया में जीना मुश्किल होता जाता है।

जब उदासी की तलाश में बहते हुए नदी सा मैं बहता हूँ,
तब मुझे एहसास होता है कि इस संसार में कुछ भी स्थायी नहीं होता है।

उदासी की ये राह मुझे उन यादों से जोड़ती है,
जो जीवन में अधूरे रह गए और जो शायद कभी पूरे नहीं होंगे।

जब मैं उदास होता हूँ,
तब मेरी रूह जीने की तलाश में होती है।

उदासी की ये राह मेरी ज़िन्दगी का हिस्सा बन गयी है,
इसे हल करने की कोशिश करता हूँ लेकिन कुछ नहीं बदलता है।

जब मैं उदास होता हूँ, तब मेरी रूह खोजती है कुछ नया,
कुछ जो मेरे अंदर छिपा हु

उदास रातों में दिल की बेचैनी का अहसास होता है,
एक अजीब सा सुकून जब कोई साथ होता है तो दूर होता है।

Mood Off Status

Mood Off Status

 

उदास होते रहते हैं मेरे दिन बीतते जाते हैं,
फिर भी खुश रहता हूँ कि उनमें से एक दिन तो गुजरता है।

उदास होती हैं इन आंखों से आँसू बहते जाते हैं,
मगर जीवन के उपयोगी सबक सीखता हूँ और मानता हूँ उनसे हमेशा कुछ नया सीखा जा सकता है।

उदास रहना अच्छा नहीं लगता,
फिर भी कुछ पल इस उदासी में भी अपना होता है।

दिल की उदासी न होती तो दिल नहीं होता,
पर जिसे हम चाहते हैं वही हमें उदास कर देता है।

उदास अकेलापन से ज़िन्दगी में दर्द होता है,
इसीलिए हमें एक दूसरे के साथ हमेशा रहना चाहिए।

जब बादल छाये रहते हैं और धूप नहीं आती,
तब उदासी का एहसास हमें हमेशा याद आता है।

उदास होती रातों में, सपनों का आखिरी संसार होता है,
एक उम्मीद के साथ सोते हुए, कि शायद कल सब ठीक हो जाए।

उदासी से भरी हुई ज़िन्दगी में, कुछ तो समझ आता है,
कि संसार जितना अच्छा दिखता है, उतना हमें उदास भी करता है।

उदास होती हुई रात की आवाज़ से बदलता है मन,
और सुबह जब सूरज निकलता है, उससे नयी उम्मीद होती है।

Mood Off Shayari 

Mood Off Shayari

 

Tanhaai mein bhi apne aap se milne ko ji karta hai, Par har baar khud se har baat chhupane ko ji karta hai.

Dard seene mein ubhar aaya hai, aankhon se bhi nami beh rahi hai, Log poochte hain ki kya hua hai, Par kisi ko samjhana bhi mushkil ho raha hai.

Teri bewafai se gham ki mehfil saji hai, Aaj toh dil ko bhi dard ki aag lagi hai.

Tere pyaar ke siwa kuch yaad nahi rehta, Tanha raat mein bhi teri yaad satati hai.

Mohabbat ke is andhere mein, Apni raah dhoondh raha hoon main.

Tujhe bhool jaane ka sochta hoon, Par har baar teri yaad satati hai.

Tanhai ka dard sehne se zyada, Teri bewafai ne dil tod diya hai.

Ek pal bhi teri yaad se door rehna mushkil hai, Pyaar mein tere diye jalte hai mere dil ke ander.

Zindagi mein jab kuch bhi nahi milta, Toh bas teri yaad satati hai.

Jis din teri yaad mein aansu baha, Us din dil ne chaha ki woh pal kabhi na aaye.

Aaj kal teri yaad mein zindagi guzaarne se darta hoon, Kyunki teri bewafai ne mere dil ka bharosa tod diya hai.

Jab bhi teri yaad aati hai, Aankhon mein ek ajeeb sa dard ubhar aata hai.

Teri bewafai se dil ko dard hua hai, Ab toh sirf tujhe bhoolne ka mauka chahiye.

Tere bin jeene ki soch mein, Dil ka dard har pal badhta hai.

Tanhaai mein apni aankhon se rota hoon, Teri yaad mein har pal tadapta hoon.

Har pal teri yaad mein rehne ko dil chahta hai, Par teri bewafai ne mere dil ko tod diya hai.

Teri yaadon mein khoya hua, Dil apna dard bhi bhool jaata hai.

Mohabbat mein teri yaadon ka dard, Dard ke siwa kuch nahi hai.

Aaj bhi teri yaadon mein khoya hua hoon, Apne aap se door ho jaane ka darr mujhe satata hai.

Pyaar mein teri yaadon ka dard, Har pal badhta hi ja raha hai.

Teri bewafai se dil ka dard badhta hi ja raha hai, Ab toh sirf tujhe bhoolne ka mauka chahiye.

Tanhaai ke raat mein teri yaad, Dil ko har pal tadpaati hai.

Har pal teri yaad mein rehne ko dil chahta hai, Par teri bewafai ne mujhe majboor kar diya hai.

Tere pyaar ke siwa kuch yaad nahi rehta, Tanha raat mein bhi teri yaad satati hai

Jab teri yaadon ka saaya dil par chhaata hai, Tanhai ka dard dil mein jagmagaata hai.

Har baat pe teri yaad aati hai, Dil mein ek ajeeb sa dard ubhar aata hai.

Tujhe bhoolne ki koshish karta hoon, Par har baar teri yaadon se ladta hoon.

Mohabbat ke is safar mein, Tanhaai meri saathi hai.

Teri yaadon se dil ka dard badhta hi ja raha hai, Zindagi ke har mod par mujhe tujhse milne ka jee chahta hai.

Tere pyaar mein khud ko kho diya, Tanhaai mein teri yaadon ka saaya saath hai.

Jab teri yaadon se dil ka dard badhta hai, Tab zindagi bhi tham si jaati hai.

Teri yaadon mein khoya hua, Dil apna dard bhi bhool jaata hai.

Har baar teri yaad mein khoya hua, Apne aap se khud ko door karne ki koshish karta hoon.

Teri bewafai se dil ka dard badhta hi ja raha hai, Zindagi ke har pal mujhe tujhse door jaane ka darr satata hai.

Mohabbat ke is andhere mein, Teri yaadon ka dard saathi hai.

Tujhe bhool jaane ki koshish karta hoon, Par har baar teri yaadon se ladta hoon.

Teri yaadon ka saaya dil pe chhaata hai, Tanhaai mein har pal tadapta hoon.

Har baar teri yaadon mein khoya hua, Apne aap se door ho jaane ka darr mujhe satata hai.

Tere pyaar ke siwa kuch yaad nahi rehta, Tanha raat mein bhi teri yaad satati hai.

Jab teri yaadon ka saaya dil pe chhaata hai, Dil mein ek ajeeb sa dard ubhar aata hai.

Har baar teri yaadon se ladta hoon, Par dil mein teri yaadon ka dard jagmagaata hai.

Teri yaadon se dil ka dard badhta hi ja raha hai, Zindagi ke har pal mujhe tujhse milne ka jee chahta hai.

Mohabbat ke is safar mein, Tanhaai meri saathi hai.

Har baar teri yaadon se ladta hoon, Par dil mein teri yaadon ka dard jagmagaata hai.

Teri yaadon ka saaya dil pe chhaata hai, Tanhaai mein har pal tadapta hoon.

Jab teri yaadon ka saaya dil pe chhaata hai, Dil mein ek ajeeb sa dard ubhar aata hai.

Teri yaadon se dil ka dard badhta hi ja raha hai, Zindagi ke har pal mujhe tujhse milne ka jee chahta hai.

Mohabbat ke is safar mein, Tanhaai meri saathi hai.

 Mood Off Shayari Video

Read More :

 

About The Author

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top